पानी में उँगलियों के सिकुड़ने के पीछे है यह वजह

आपने गौर किया होगा कि ज्यादा देर पानी में रहने पर हमारे हाथ और पैर की त्वचा में सिकुड़न हो जाती है ऐसा सभी के साथ होता है लेकिन इस बात का जवाब आपको नहीं पता होगा, सोचा तो बहुत होगा लेकिन जवाब नहीं मिला होगा. इस बात जवाब हम आपको देंगे कि आखिर ऐसा क्यों होता है? बहुत से लोगों को ये लगता है कि हमारी त्वचा की परत में पानी जाने से अंगुलियां सूज जाती है और सिकुड़ने लग जाती हैं. लेकिन ऐसा नहीं है.

शोधकर्ताओं के मुताबिक अगर किसी को Nerve Damage की समस्या है तो ऐसा नहीं होगा.इस बार वैज्ञानिकों ने दावा किया है कि उन्होंने इस बात का हल ढूंढ लिया है कि ऐसा क्यों होता है. वैज्ञानिकों के मुताबिक ऐसा इसलिए होता है क्योंकि सिकुड़ी उंगली से गीली चीजों को पकड़ने में आसानी होती है असल में स्किन की नीचे की रक्त वाहिकाओं में बाधा के कारण स्किन सिकुड़ती है. हाल में की गयी स्टडी में प्रतिभागियों को अलग-अलग आकार के कंचों समेत कई गीली और सुखी वस्तुएं उठाने को बोला गया.

यह कार्य उन्होंने सूखे और 30 मिनट के लिए गर्म पानी में भिगोए हाथों से किया. इस कार्य को करने से पता चला कि सिकुड़ी हुई उंगली वाले हाथों से गीले कंचों को उठाना सूखे हाथों से उठाने से ज्यादा आसान था. लेकिन गीले हाथों का सूखी वस्तुओं को उठाने में कोई असर नहीं हुआ. यूनाइटेड किंगडम की Newcastle University के एक विकासवादी जीवविज्ञानी, Tom Smulders कहते हैं, “इससे पता चलता है कि गीले सामान को संभालने की परिस्थितियों में सिकुड़ी हुई उंगलियां बिलकुल वैसे ही काम करती हैं जैसे गाड़ी के पहियों पर बने ट्रेड्स सड़क पर उसकी ग्रिप को बेहतर बनाते हैं.” तो पता चला कि आखिर ये अंगुलिया पानी में ज्यादा देर रहने पर क्यों सिकुड़ जाती हैं.

Be the first to comment

Leave a Reply

Your email address will not be published.


*


This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.