‘यह मेरा भारत नहीं है’ कहने के बाद रहमान का इससे भी बड़ा Dhamaka

Entertainment

बॉलीवुड की चर्चित शख्सियतों में शुमार हम बात कर रहे है भारतीय संगीत को अंतराष्ट्रीय ख्याति दिलाने वाले ए.आर.रहमान के बारे में जिनकी ख्याति आज देश के साथ साथ विदेश तक है. वैसे भी देखा जाए तो संगीतकार ए.आर.रहमान ने अपने प्रयोगवादी और प्रतिभाशाली संगीत से भारतीय सिनेमा संगीत को अंतराष्ट्रीय स्तर पर विशेष पहचान दिलाई है. मशहूर संगीतकार एआर रहमान ने भी अब चर्चित पत्रकार गौरी लंकेश की हत्या पर गहरा दुख व्यक्त किया है. उन्होंने कहा कि यदि इस तरह की घटनाएं होती रहीं तो यह मेरा भारत नहीं है. रहमान अपनी आगामी फिल्म ‘वन हार्ट : द एआर रहमान कंसर्ट फिल्म’ के प्रीमियर के लिए गुरुवार को मुंबई में थे. इस मौके पर जब उनसे लंकेश की हत्या पर प्रतिक्रिया मांगी गई तो रहमान ने कहा, ‘मैं इस घटना से बेहद दुखी हूं. मैं उम्मीद करता हूं कि इस तरह की घटनाएं भारत में न हों. अगर ऐसी घटनाएं भारत में होती रहती हैं तो यह मेरा भारत नहीं है. मैं चाहता हूं कि मेरा भारत प्रगतिशील और उदार बने.’ इस तरह से संगीतकार ए आर रहमान ने पत्रकार गौरी लंकेश की हत्या पर गहरा दुःख व्यक्त किया है. संगीतकार ए आर रहमान ने पत्रकार गौरी लंकेश की हत्या संबंधी सवाल के जवाब में शनिवार को केवल इतना कहा कि वह कोई बुद्धिजीवी नहीं हैं और खुद को इस मामले में एक साधारण व्यक्ति की तरह से देखते हैं. बता दें कि उन्होंने ना केवल हिंदी बल्कि तेलेगु, मल्ल्यालम, कन्नड़ और तमिल भाषा में संगीत दिया है. बता दें कि ए आर रहमान ने सिर्फ भारत ही नहीं बल्कि अंतरराष्ट्रीय फिल्मों के लिए भी संगीत दिया है. अब एक बार फिर से बॉलीवुड के संगीतकार ए.आर.रहमान पत्रकार गौरी लंकेश की हत्या पर दिए गए अपने बयान के कारण सुर्खियों में बन आए है.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *