सिनेमा की दोनों धाराओं में नसीरुद्दीन का चमचमाता रूप

Entertainment

आज नसीरुद्दीन शाह 68 साल के हो चले है. अभिनेता नसीरुद्दीन शाह ने जिन्होंने बॉलीवुड की अनगिनत सुपरहिट फिल्मों में अपने शानदार अभिनय से सभी के दिलो पर राज किया हुआ है. बता दे कि 20 जुलाई 1949 को उत्तर प्रदेश के बाराबंकी में जन्मे नसीरूद्दीन शाह ने अपनी प्रारंभिक शिक्षा अजमेर और नैनीताल से पूरी की. इसके बाद उन्होंने अपनी स्नातक की पढ़ाई अलीगढ़ मुस्लिम विश्विद्यालय से पूरी की. वर्ष 1971 में अभिनेता बनने का सपना लिये उन्होंने दिल्ली नेशनल स्कूल ऑफ ड्रामा स्कूल में दाखिला ले लिया. 1975 में नसीरुद्दीन की मुलाकात जाने माने निर्माता-निर्देशक श्याम बेनेगल से हुई.

नसीरुद्दीन शाह जो के अपनी अदाकारी के साथ साथ अपनी विवादित बयानबाजी के चलते भी सुर्खियों मे बने रहते है. नसीरुद्दीन शाह जिन्होंने अपने तीन दशक लंबे सिनेमा करियर में अबतक लगभग 200 फिल्मों में काम किया है और आज भी उसी जोशोखरोश के साथ फिल्म इंडस्ट्री में सक्रिय हैं. नसीर ऐसे ध्रुवतारे की तरह है जिन्होंने अपने सशक्त अभिनय से समानांतर सिनेमा के साथ-साथ व्यावसायिक सिनेमा में भी दर्शकों के बीच अपनी खास पहचान बनाई. नसीरुद्दीन शाह को सन 1979 मे प्रदर्शित हुई फिल्म स्पर्श’ में अंधे व्यक्ति के किरदार के सर्वश्रेष्ठ अभिनेता का राष्ट्रीय पुरस्कार भी मिल चूका है. 1994 में प्रदर्शित फिल्म ‘मोहरा’ में वह खलनायक का चरित्र निभाने से भी नहीं हिचके. इस फिल्म में भी उन्होंने दर्शकों का मन मोहे रखा.

इसके बाद उन्होंने टक्कर, हिम्मत, चाहत, राजकुमार और सरफरोश और कृष जैसी फिल्मों में खलनायक की भूमिका निभाकर दर्शकों का भरपूर मनोरंजन किया. तथा अभी भी नसीरुद्दीन फिल्मों में खासा सक्रिय है. नसीर की काबिलियत का सबसे बड़ा सुबूत है, सिनेमा की दोनों धाराओं में उनकी कामयाबी. नसीर का नाम अगर पैरेलल सिनेमा के सबसे बेहतरीन अभिनेताओं की फेहरिस्त में शामिल हुआ तो बॉलीवुड की मेन स्ट्रीम या कमर्शियल फिल्मों में भी उन्होंने बड़ी कामयाबी हासिल की है. नसीर अपने शानदार हरफनमौला अंदाज से बन गए मेन स्ट्रीम के चहेते सितारे, ऐसा सितारा जिसने हर तरह के किरदार को बेहतरीन अभिनय से जिंदा कर दिया.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *