हाथ पैर नहीं लेकिन विडियो गेम खेलने का है बहुत शौक

इसे कुदरत का खेल कहे या इसकी बदकिस्मती. इंडोनेशिया में रहने वाला यह 11 साल का बच्चा टियो सेटरियो अपने दोनों हाथ और दोनों पैर के बगैर इस दुनिया में आया. टियो बिना हाथ-पैर के ही पैदा हुआ. लेकिन हाथ-पैर ना होने के बावजूद भी इसे एक एसी चीज की लत है जिसके लिए हाथों का होना तो बहुत जरूरी है. 11 साल के टियो को वीडियोगेम खेलने की लत है. टियो अपनी इस लत को पूरा करने के लिए पसलियों और ठुड्डी की मदद से वीडियो गेम खेलता है. टियो सिर्फ गेम ही नहीं खेलता, बल्कि इस गेम में अपने दोस्तों को भी हरा देता है.

टियो की मां का कहना है कि सुबह नहाने के बाद से ही टियो वीडियो गेम खेलने में लग जाता है और तब तक खेलता रहता है जब तक इसके टीचर इसे स्कूल के लिए नहीं ले जाते. स्कूल से आने के बाद ये फिर वीडियो गेम खेलना शुरू कर देता है.
कुदरत की मार झेल रहा टियो स्कूल में अपने टीचर्स का भी लाडला है. उसकी प्रिंसिपल बताती हैं कि दूसरी क्लास में होते हुए भी वह चौथी क्लास के मैथ्स के सवालों को तुरन्त हल कर लेता है, लेकिन वह ऐसा हमेशा से नहीं था. हालांकि पहले वह अपनी शारीरिक कमजोरियों की वजह से असुरक्षा की भावना से महसूस करता था. लेकिन अपने मिलनसार स्वभाव और मुस्कुराहट से उसने स्कूल में सबका दिल जीत लिया है.

टियो की मां के अनुसार उन्हें प्रगनेंसी के दौरान अपने बच्चे की इस स्थिति के बारे में पता नहीं था और बेटे के जन्म के बाद भी उन्हें नहीं बताया गया कि उनके बच्चे के दोनों हाथ और पैर नहीं हैं. जब उन्हें पता चला तो उनके लिए अपने बच्चे की यह स्थिति स्वीकार करना अति मुश्किल हो गया था, लेकिन मैंने किसी तरह ये स्थिति स्वीकार की और अब टियो की देखभाल करना मेरे लिए फुलटाइम जॉब बन गया है.

Be the first to comment

Leave a Reply

Your email address will not be published.


*


This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.