चलती कार में हुआ 8वी की छात्रा से गैंगरेप

प्रचंड बहुमत हांसिल करने के बाद भाजपा ने देश के सबसे बड़े प्रदेश की कमान योगी आदित्यनाथ के हाथ सौंपी। लोगो को उस समय लग रहा था कि अब अपराध पर लगाम लगेगी और यूपी में शांति का सूर्यौदय होगा। लेकिन योगी को प्रदेश का मुखिया बने 2 महीने बीत गए लेकिन इसके बाद भी अपराधियों के हौंसले बुलंद है। आए दिन हत्या, बलात्कार और लूटपाट जैसी घटनाए सामने आ रही है। योगी ने कहा था कि कानून से खेलने वालो की कहिअर नहीं रहेगी और उन्हें ऐसी जगह पंहुचा दिया जहा कोई नहीं जाना चाहता है। लेकिन जिस तरह से अपराधी जघन्य वारदातों को अंजाम दे रहे है उसे देखकर लगता है कि बदमाशों पर सीएम योगी की बातो का कोई असर नहीं है।

ताज़ा मामला लखनऊ के गाज़ीपुर थाना में सामने आया है। कक्षा आठ में पढ़ने वाली एक छात्रा से चलती कार में गैंगरेप किया। दरिंदगी पर आमादा वहशी दरिंदो ने रातभर छात्र को सामूहिक दुष्कर्म का शिकार बनाया। आरोपी सुबह करीब 4 बजे पीड़ित छात्रा को उसके घर के बाहर फेंक कर फरार हो गए। जब इस घटना के बारे में लोगो को पता चला तो इलाके में सन्नाटा पसर गया।

इस घटना के सामने आने के बाद एक बार फिर योगी सरकार और सुरक्षा व्यवस्था पर कई सवालिया निशान खड़े हो गए। यह घटना ऐसे समय में सामने आई जब उत्तरप्रदेश का विधानसभा सत्र चल रहा है और विपक्ष अपराध को मुद्दा बनाकर योगी सरकार को घेरने में लगा हुआ है। विपक्ष को जवाब देते हुए मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने कहा कि अपराधों पर लगाम कसने के लिए बीजेपी सरकार को एक वर्ष का समय चाहिए।

Be the first to comment

Leave a Reply

Your email address will not be published.


*


This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.