8 हजार से भी ज्यादा लोग यहाँ समुद्र में रहते है घर बनाकर

OMG!

चीन के निंगडे सिटी में बसी एक ऐसी ही बस्ती समुद्र में तैरती रहती है. यह दुनिया का एकमात्र ऐसा गांव है जो पूरी तरह से गहरे समुद्र पर बसा हुआ है. ये गांव 1300 वर्ष पुराना है, वर्तमान में करीब 8500 लोग इस तरह अपना जीवन यापन कर रहे हैं. इस पर रहने वाले सभी लोग मछुआरे हैं जिन्हें टांका कहा जाता है.

चीन में कई सौ सालों पहले टांका जाति के लोग मौजूदा शासकों के उत्पीडऩ से त्रस्त होकर समुद्र किनारे आ गए. दक्षिण पूर्व चीन में इन मछुआरों का परिवार अपने परंपरागत नावों के मकान में रह रहा है.  समुद्री मछुआरों की यह बस्ती फुजियान राज्य में दक्षिण पूर्व की निंगडे सिटी के पास समुद्र में तैर रही है. उन्हें जिप्सीज ऑफ द सी भी कहा जाता है. ये लोग न तो किनारे पर आते हैं और न ही समुद्र के बाहर बसे लोगों के साथ कोई रिश्ता जोड़ते हैं.

दरअसल, चीन में 700 ईस्वी में तांग राजवंश का शासन था. उस समय टांका जनजाति समूह के लोग युद्ध से बचने के लिए समुद्र में अपनी नावों में रहने लगे थे. तभी से इन्हें जिप्सीज ऑन द सी कहा जाने लगा और वह कभी-कभार ही जमीन पर आते हैं.