जरदारी के निशाने पर नवाज शरीफ, कहा : पड़ोसी देशों के साथ युद्ध नहीं होने दूंगा

Society

पाकिस्तान के पूर्व राष्ट्रपति आसिफ अली जरदारी ने पाकिस्तान के पड़ोसी देशों के साथ तनाव पैदा करने के लिए नवाज शरीफ की सरकार की आलोचना की है। उन्होंने रविवार को कहा कि मैं पड़ोसी देशों के साथ किसी भी कीमत पर युद्ध नहीं होने दूंगा। डॉन अखबार के हवाले से उन्होंने कहा कि नवाज शरीफ अमेरिका की विदेश नीति यानी कि युद्ध छेड़ने की नीति का पालन कर रहे हैं। उन्होंने नवाज शरीफ पर निशाना साधते हुए कहा कि पाकिस्तान को अपने सभी पड़ोसी देशों के साथ सभी मुद्दों को बातचीत के जरिये हल करना चाहिए। मगर नवाज शरीफ अमेरिका की युद्ध छेड़ने की नीति पर चल रहे हैं।

उन्होंने कहा कि हम किसी भी कीमत पर युद्ध नहीं होने देंगे। पेशावर में एक सार्वजनिक रैली को संबोधित करते हुए जरदारी ने नवाज शरीफ की सरकार को पड़ोसियों के साथ बातचीत शुरू करने के लिए कहा है। उन्होंने कहा कि जब वे सत्ता में थे भारत और अफगानिस्तान के साथ काफी अच्छे संबंध थे। आज अफगानिस्तान के साथ संबंध बिगड़ रहे हैं। उन्होंने कहा कि अफगानिस्तान में शांति क्षेत्रीय शांति और स्थिरता के लिए आवश्यक है।

जरदारी ने कहा कि खैबर पख्तुनख्वा में हिंसा बढ़ रही है, आग लग रही है, मगर जिसकी सरकार है उस प्रांत में उसे इसकी खबर तक नहीं। उन्होंने कहा कि यहां के लोगों को उनके अधिकार दिलाने के लिए उनकी पार्टी PPP ने फैसला किया है कि फेडरली ऐडमिनिस्टर्ड ट्राइबल एरिया (एफएटीए) का खैबर पख्तून ख्वाह में विलय कर दिया जाएगा।