इंदौर के तीर्थयात्रियों से भरी बस उत्तरकाशी में नदी में गिरी, 21 लोगों की मौत

Society

उत्तराखंड के उत्तरकाशी में तीर्थयात्रियों से भरी बस के भागीरथी नदी में गिरने से इंदौर के 21 लोगो की मौत हो गई है। यह दर्दनाक हादसा कल मंगलवार शाम को हुआ। खबर है की अभी तक 19 लोगो के शवों को नदी से निकाला जा चूका है। वही सीएम शिवराजसिंह चौहान ने मृतकों के परिवारों को दो-दो लाख रुपए की आर्थिक सहायता देने की घोषणा की है। शवों को उत्तरकाशी प्रशासन द्वारा देहरादून रवाना किया जा रहा है।

उधर मध्यप्रदेश शासन की टीम भी घटना स्थल पहुंच गई है। सभी शवों को ट्रैन से इंदौर लाया जाएगा। जिसके लिए स्पेशल बोगी की व्यवस्था की गई है। सभी शव गुरुवार सुबह या दोपहर तक इंदौर पहुंच जाएंगे। शव पहुंचने के बाद उन्हें परिजनों को सौंप दिए जाएंगे। बता दे कि इस हादसे के बारे में मिली जानकारी के अनुसार इंदौर के यात्रियों से भरी बस गंगोत्री धाम से लौटते समय 300 मीटर गहरी खाई में गिरने से 21 यात्रियों की मौके पर ही मौत हो गई।

मंगलवार सुबह गंगोत्री धाम के दर्शन कर दो बसों में सवार 57 यात्रियों का यह दल दो बसों में केदारनाथ की ओर जा रहा था। शाम करीब छह बजे 30 यात्रियों से भरी बस उत्तरकाशी से 25 किमी दूर गंगोत्री हाईवे पर काफी ऊंचाई होने और कठिन मोड़ होने से ड्राइवर संतुलन खो बैठा और बस नालूपानीखाई में गिर गई। हादसे की सूचना मिलते ही जिलाधिकारी डॉ। आशीष श्रीवास्तव व एसपी ददन पाल सहित बचाव दल मौके पर पहुंचा। नदी में पानी का बहाव ज्यादा होने से बचाव और राहत कार्य में आ रही परेशानी को देखते डीएम ने जोशियाड़ा बैराज से पानी रोकने के आदेश दिए।

जब पानी का स्तर कम हुआ तब इसके बाद रेस्क्यू ऑपरेशन में तेजी आ पाई। इस हादसे पर उत्‍तराखंड के सीएम त्रिवेंद्र सिंह रावत ने हादसे पर दुख जताते हुए कहा कि उत्तराखंड सरकार की ओर से हादसे में मारे गए लोगों के परिजनों को एक-एक लाख और घायलों को पचास-पचास हजार रुपए की सहायता दी जाएगी। वहीं एमपी के सीएम शिवराजसिंह चौहान ने ट्वीट कर हादसे पर शोक जताया और मृतकों के परिवार को 2-2 लाख रुपए देने की घोषणा की है।