Happy Birthday ‘शबाना आजमी’: जया बच्चन को देखकर फिल्मों में आईं

Entertainment

बॉलीवुड की चर्चित व खूबसूरत अदाकाराओं में शुमार हम बात कर रहे है बॉलीवुड अभिनेत्री शबाना आजमी के बारे में जिनका के आज जन्मदिन है. अभिनेत्री शबाना आज 67 साल की हो गई हैं. शबाना आजमी जिनका जन्म 18 सितंबर, 1950 को हैदराबाद के एक मुस्लिम परिवार में हुआ था शबाना के पिता कैफी आजमी एक मशहूर शायर थे. उन्होंने अपने करियर की शुरुआत साल 1974 में श्याम बेनेगल की फिल्म ‘अकुंर’ से की थी. अपने 36 साल के करियर में शबाना ने कई बेहतरीन फिल्मों में काम किया. उन्होंने ‘अर्थ’, ‘निशांत’, ‘स्पर्श’, ‘मंडी’, ‘मासूम’, ‘पेस्टन जी’, ‘अमर अकबर एंथोनी’, ‘परवरिश’, ‘मैं आजाद हूं’ सहित कई फिल्मों में अभिनय किया. उन्हें पद्मश्री अवॉर्ड भी दिया गया है. सोशल वर्कर के रूप में उन्होंने अपनी एक अलग पहचान बनाई है. शबाना आजमी 1997 में राज्यसभा की सदस्य भी मनोनीत की गईं. शबाना आजमी की गिनती ऐसी अभिनेत्रियों में शुमार है, जिन्होंने अपनी खूबसूरती और अभिनय से सभी को अपना दीवाना बना दिया. वह 120 से अधिक हिंदी और बंगाली फिल्मों में दिखाई दीं. उन्हें फिल्मों में उनकी अलग-अलग भूमिकाओं को सराहा गया. शबाना आजमी की शादी हिंदी सिनेमा के मशहूर संगीतकार जावेद अख्तर से हुई है. जावेद अख्तर पहले से शादी-शुदा थे, लेकिन शबाना के प्यार में उन्होंने अपनी पहली पत्नी हनी ईरानी को तलाक देकर अभिनेत्री शबाना से निकाह कर लिया. और उनकी यह जोड़ी आज भी लोग के लिए मिसाल है.

शबाना आजमी की प्रसिद्ध फ़िल्में:
अंकुर, अमर अकबर अन्थोनी , निशांत, शतरंज के खिलाडी, खेल खिलाडी का,हिरा और पत्थर , परवरिश, किसा कुर्सी का, कर्म, आधा दिन आधी रात, स्वामी ,देवता ,जालिम ,अतिथि ,स्वर्ग-नरक, थोड़ी बेवफाई स्पर्श अमरदीप ,बगुला-भगत, अर्थ, एक ही भूल हम पांच, अपने पराये ,मासूम,लोग क्या कहेंगे, दूसरी दुल्हन गंगवा,कल्पवृक्ष, पार, कामयाब ,द ब्यूटीफुल नाइट, मैं आजाद हूँ, इतिहास,मटरू की बिजली का मंडोला.

जया बच्चन को देखकर फिल्मों में आईं
जया बच्चन की फिल्म ‘सुमन’ से शबाना इस कदर प्रभावित हुईं कि उन्होंने फिल्मों में आने का मन बना लिया. इसके बाद उन्होंने भारतीय फिल्म और टेलीविजन संस्थान में दाखिला ले लिया. पहली ही फिल्म ‘अंकुर’ से ही शबाना को लोग पहचानने लगे.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *