हंसने के तरीके से जानिए व्यक्ति का नेचर

आज लोग इतने अधिक व्यस्त हो गए है कि हंसना भी भूल गए हैं। सबको पता है कि हंसने से खून बढ़ता है और उम्र भी बढ़ती हैं। किसी शायर ने कहां है कि मैं इक फकीर के होंठों की मुस्कुराहट हूं किसी से भी मेरी कीमत अदा नहीं होती।

हर व्यक्ति के हंसने का तरीका भिन्न-भिन्न होता है। कोई मंद-मद मुस्कराता है तो कोई ठहाका मार के हंसता है। समुद्र शास्त्र के अनुसार व्यक्ति मे हंसने के तरीक से आप उसके बारे में मालूम कर सकते हैं।

जिन लोगों की मुस्कान शांत होती है वे अपने मन की प्रसन्नता को व्यक्त करते है तथा गंभीर, धैर्यवान, शांतिप्रिय, विश्वासी, ज्ञानी एवं स्थिर प्रवति के होते हैं। ऐसे लोगों के साथ आप को रहना चाहिये।
घोड़े के समान हिनहिना कर हंसने वाले लोग धूर्त होते हैं। ऐसे लोग अहंकारी, कपटी तथा निक्कमे होते हैं। ये लोगों का फायदा उठाने में माहिर होते हैं। इन पर आसानी से विश्वास नहीं किया जा सकता।
खिलखिलाकर हंसने वाले लोग सहनशील, दयालु, सभी का अच्छा सोचने वाले तथा पढाई-लिखाई में आगे होते हैं। ऐसे लोग किसी को धोखा नहीं देते तथा अच्छे प्रेमी होते हैं।
जो लोग ठहाका मारकर ऊंचे स्वर में हंसते है वो अपने जीवन में सफल होते हैं। यदि ऐसी हंसी के साथ चेहरा व्यंगपूर्ण हो तो उनमे अहंकार की भावना भी होती है।
रुक-रुक कर हंसने या एक ही विषय पर कुछ देर बाद तक हंसने वाले लोगों की मानसिक शक्ति कमजोर होती है। ऐसे लोग हर काम में असफल रहते हैं।

Be the first to comment

Leave a Reply

Your email address will not be published.


*


This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.