मथुरा डबल मर्डर केस : पीड़ित के घर पहुंचे मंत्री श्रीकांत शर्मा और डीजीपी

उत्तर प्रदेश में योगी आदित्यनाथ सरकार को आए दो महीने होने वाले हैं, लेकिन कानून व्यवस्था के मोर्चे पर सरकार की मुश्किलें खत्म होती नहीं नजर आ रही हैं। सोमवार रात को मथुरा में दो कारोबारियों की हत्या के बाद पीड़ित परिवार से मिलने पहुंचे ऊर्जा मंत्री श्रीकांत शर्मा और डीजीपी सुलखान सिंह को परिवार वालों की नाराज़गी झेलनी पड़ी। घटना के बाद परिवार के दर्द पर मरहम लगाने पहुंचे श्रीकांत शर्मा और डीजीपी सुलखान सिंह को काफ़ी विरोध का सामना करना पड़ा। पीड़ित परिजनों ने मंत्री से कहा कि वे लोग वारदात के वक्त पुलिस को फोन करते रहे, लेकिन मौका-ए-वारदात पर कोई नहीं पहुंचा। इस दौरान मंत्री को खूब खरी-खोटी सुनाई गई।

मथुरा से विधायक और यूपी के ऊर्जा मंत्री श्रीकांत शर्मा ने कहा, “हमारी पूरी कोशिश है कि ऐसी घटना दोबारा न होने पाए। मथुरा शहर में जगह-जगह सीसीटीवी कैमरे लगाए जाएंगे। पुलिस पेट्रोलिंग बढाई जाएगी। सरकार इस घटना को लेकर बहुत संवेदनशील है। मामले की रिपोर्ट मुख्यमंत्री योगी आदित्यानाथ को दी जाएगी। हमारी कार्रवाई दिखाई देगी।”मथुरा के कोयला गली इलाके में सोमवार रात दो ज्वैलर्स से 4 करोड़ के गहने लूट लिए थे।

ज्वैलरी शॉप मयंक चेन्से के प्रोपराइटर विकास अग्रवाल (30) और डैम्पीयर नगर निवासी मेघ अग्रवाल (34) की हथियारबंद बदमाशों ने गोली मारकर हत्या कर दी थी। सीएम योगी आदित्यनाथ ने घटना की जांच के आदेश दिए हैं। वारदात के बाद व्यापारियों ने सर्राफा बाजार बंद कर दिया था। फायरिंग में जख्मी विकास अग्रवाल के छोटे भाई मयंक अग्रवाल, कारीगर अशोक साहू और एक अन्य कामगार महमूद अली का इलाज चल रहा है। वारदात की तफ्तीश के लिए पुलिस की पांच टीमें बनाई गई हैं।

Be the first to comment

Leave a Reply

Your email address will not be published.


*


This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.