जेल जाने के लिए यहाँ देने होते है पूरे 500 रु

OMG!

जेल का नाम सुनते ही आपके दिमाग में एक ही ख्याल आता है ,मुजरिम,क्राइम,वगेरह। ज़ाहिर सी बात है उस एगलत तरीके से ही देखा जायेगा। कुछ होते हैं जो जुर्म करते हैं और जेल नहीं जाना चाहते। लेकिन कुछ लोग ऐसे भी होते हैं जिन्हें जेल में घूमना पसंद आता है। हालाँकि ये कोई घूमने की जगह तो है नहीं फिर भी कुछ लोगों का शौक होता है कि एक बार तो जेल को देखा जाये कि आखिर होती कैसी है। तो जिन्हें ऐसे ही घूमने का शौक है उनके लिए है खुशखबरी। जी हाँ,अब वो बिना जुर्म के जेल में जा सकते हैं। लेकिन अगर आपको जेल जाना है तो जेल जाने के लिए भी आपको पैसे चुकाने पड़ेंगे।

दरअसल, तेलंगाना के मेडक जिले में संगारेड्डी इलाके में स्थित एक औपनिवेशिक काल के पुराने डिस्ट्रिक्ट जेल ने एक अनोखी पहल की है. जेल प्रशासन ने पर्यटकों के देखने और अनुभव के लिए ये पहल की है, जिसमें कोई भी पर्यटक एक दिन का 500 रु देकर जेल के जीवन का अनुभव प्राप्त कर सकता है। संगारेड्डी में 220 साल पुराने डिस्ट्रिक्ट जेल को अब एक संग्रहालय में तब्दील कर दिया गया है। कारागार विभाग के द्वारा ‘फील द जेल’ नाम से एक अनोखा कदम उठाया गया है।

ये उन लोगों के लिए है, जो लोग सलाखों के पीछे रहकर जेल का अनुभव लेना चाहते हैं. इसमें उन्हें 500 रूपये में 24 घंटों का कारावास प्रदान करने की बात कही गई है। इसमें आपको वो सब सुविधा मिलेगी जो एक मुजरिम को मिलती है ताकि उन्हें जेल जैसा ही फील हो। अधिकारियों के मुताबिक, विजिटर कैदियों के लिए काम की कोई अनुसूची नहीं है। हालांकि, वे अपनी इच्छा से साफ-सफाई और पेड़-पौधे लगाने का काम कर सकते हैं।