बाहर के ज्यूस से हो सकते है बीमार

Lifestyle

। गर्मियों के मौसम में हर व्यक्ति के मन में ज्यूस पीने का ख्याल आता है। आम का ज्यूस सभी के मन को पंसद आता है। ऐसे में अधिकतर लोगों की पहली पंसद मैंगो शेक है। लेकिन अगर आपने सडक़ के किराने या दुकानों पर से मैंगो शेक पीने का शौक है तो आप हो सकते है बीमारी के शिकार। जानिए बाहर बना मैंगो शेक कैसे बना सकता है आपको बीमार।

सस्ते में शेक बेचने के चक्कर में दुकानदार कई दिन पुराना और खराब हो चुका दूध भी इस्तेमाल कर लेते हैं। ज्यादातर ये देखा गया है कि दुकानदार मैंगो शेक बनाने में जो दूध इस्तेमाल करते हैं वो बहुत ही खऱाब क्वालिटी का होता है।

ठेलें वाले दुकानदार मैगों शेक को सजाने के लिए घटिया ड्राईफ्रूट्स का उपयोग करते है वो बेहद ही खराब किस्म का होते हैं। यहां तक की उन ड्राईफ्रूट्स में कीड़ें तक पड़ जाते हैं। ऐसा शेक पीने से हमारे शरीर में पहुंचकर जानलेवा बीमारियाँ पैदा करते हैं।

अधिकांश दुकानों पर ग्लासों की संख्या कम होती है। जिन्हें दुकानदार एक के बाद एक गंदे तरीके से अपने ग्राहकों को परोसते रहते हैं और धोने के नाम पर बस खानापूर्ति की जाती है और इसकी वजह से पीलिया जैसी खतरनाक बीमारियां शरीर में घर कर जाती हैं।

अधिकतर लोग मैंगो शेक की दुकानों पर जो बर्फ इस्तेमाल होती है यो तो उसका स्तर ठीक नहीं होता या उसमें हानिकारक जीव और बैक्टीरिया मौजूद होते हैं साथ ही इनसे शरीर में पीलिया जैसी हानिकारक बीमारियां जन्म ले लेती हैं।

सस्ते दाम में ठेलों पर मैंगोशेक पीकर हम खुश तो हो जाते है। लेेकिन यह भूल जाते है कि दुकानदार शेक बनाने के लिए घटिया किस्म का सड़ा-आम इस्तेमाल करते हैं।

दुकानदार समय बचाने और ग्राहकों की भीड़ को देखते हुए ब्लेंडर को सही तरीके से साफ नहीं करते हैं और लंबे समय तक बिना धुले जार इस्तेमाल करते रहते हैं।