चोरी के बाद ही गायब हो गए ये चोर

OMG!

चोरी के केस तो आप रोज़ ही कहीं ना कहीं के सुनते होंगे। और बहुत बार पुलिस चोर को पकड़ भी लेती है। लेकिन कोई कोई चोर इस तरह चोरी करते हैं कि इंसान सोचने पर मजबूर होजाता है कि आखिर इसने ये किया कैसे। कुछ ऐसे ही सुपरचोरो  की लिस्ट लाएं हैं हम आपके लिए।

1. अंजली माकन – अंजली माकन के ऊपर धोखाधड़ी के 2, जालसाज़ी का 2 और नकली दस्तावेज़ बनाने का 1 मामला दर्ज है। लेकिन आज वो कहाँ हैं ये कोई नहीं जानता है। और CBI की लिस्ट में वो मोस्ट वांटेड में शामिल है।

2. रुस्तम नागरवाला – 21 मई, 1971 में उसने स्टेट बैंक ऑफ़ इंडिया के हेड कैशियर,को फ़ोन लगाया। फ़ोन पर उसने, प्रधानमंत्री इंदिरा गांधी की आवाज़ की नक़ल की और कहा कि किसी “राष्ट्रीय आपदा” से निपटने के लिए 60 लाख रुपयों की ज़रुरत है। रूपए तैयार होते ही रुस्तम रूपए लेकर निकल गया और पता करने पर ये जाना कि ऐसी कोई भी आपदा के लिए मांग नही की गयी थी।

3. रबिंदर सिंह – ये भारत की ख़ूफ़िया एजेंसी, RAW में जॉइंट सेक्रेटरी थे। 2004 में पता चला कि रबिंदर, दूसरे विभाग के ज़रूरी और गोपनीय दस्तावेज़ों की फोटो कॉपी निकाल रहे थे। इसके बाद उन पर निगरानी रखी गयी और उसी दौरान सिंह गायब हो गए। हालाँकि उन्होंने चोरी तो नही की थी लेकिन जानकारी दूसरे देश को सौंप चुके थे।

4. चेलेम्ब्रा बैंक डकैती – 31 दिसंबर, 2007 में, बैंक ऑफ़ केरेला की चेलेम्ब्रा ब्रांच के अधिकारियों को ज्ञात हुआ कि बैंक में चोरी हो गयी है। इस गैंग के 4 लोगों ने बैंक के नीचे वाली मंज़िल पर एक रेस्टोरेंट किराए पर लिया और लोगों को कहा कि मरम्मत की वजह से रेस्टोरेंट बंद है और बाद में खुलेगा। फिर क्या, इस रेस्टोरेंट की आड़ में, उन्होंने मुख्य वॉल्ट के नीचे खुदाई की और बैंक लूट कर भाग गए. लेकिन अंत में वो सारे पकड़े गए।

5. साइबरक्राइम मास्टरमाइंड – 2008 में एक भारतीय हैकर ने दुनिया के सबसे बड़े साइबर क्राइम को अंजाम दिया. उसने एक क्रिमिनल गैंग की मदद की जिसने करीब 8 मिलियन लोगों की निजी जानकारी इंटरनेट से निकाल ली। इस भारतीय हैकर ने UK के विख्यात वेस्टर्न होटल का ऑनलाइन बुकिंग सिस्टम हैक कर लिया, जिससे जिन-जिन लोगों ने इस होटल में बुकिंग की थी, उनकी सारी जानकारी जैसे नाम, पता, क्रेडिट कार्ड नंबर वगैरह उसे मिल गयी। लेकिन स्कॉटलैंड के संडे हेराल्ड न्यूज़पेपर को इसकी भनक लग गयी और उन्होंने तुरंत वेस्टर्न होटल के प्रशासन को खबर कर दी। चोरी तो कुछ समय के लिए टल गयी लेकिन इस भारतीय हैकर की असली पहचान आज तक सामने नहीं आई है।

6. गोहाना बैंक डकैती – 2014 में, हरयाणा के एक गैंग ने बैंक के स्ट्रांग रूम तक 84 फुट की टनल खोद दी थी और 50 किलो सोना और करीब 4 लाख नकद लेकर भागने में कामयाब हो गए थे। लेकिन जैसे केरेला के चोरों के साथ हुआ, कुछ समय बाद ये भी पकड़े गए।