तो यह है ‘तूफान सिंह’

Entertainment

यह तो सभी को पता चल ही गया है कि सेंसर बोर्ड के पूर्व चीफ रहे पहलाज निहलानी जिनकी अभी हाल ही मे सेंसर बोर्ड के पद से छुट्टी हुई है. अब एक बार फिर से पहलाज अपने बयान के कारण सुर्खियों में बन चले है पद के चले जाने के बाद भी पहलाज निहलानी का एटीट्यूड कुछ कम नहीं हुआ है. बात करे अगर नए नवेले चीफ प्रसून जोशी के बारे में तो जनाब बता दे कि उन्होंने पंजाबी फिल्म ‘तूफान सिंह’ को बैन कर दिया है अब जब फिल्म को बैन किया गया है तो फिर इसका कारण भी जानना बनता है. जी हां बता दे कि, पंजाबी फिल्म ‘तूफान सिंह’ को बाघेल सिंह ने डायरेक्ट किया है.

इस फिल्म के हीरो रणजीत बावा हैं, जोकि देश के सिस्टम और राजनीति में मौजूद भ्रष्टाचार से लड़ने के लिए आतंकवादी गतिविधियों का सहारा लेता है. फिल्म के हिंसात्मक कंटेट को देखते हुए सेंसर बोर्ड ने इसे बैन किया है. मीडिया रिपोर्ट्स के अनुसार जुगराज सिंह तूफान 1971 में पंजाब के चीमा खुदी गांव में जन्मा था. वह अपनी पांच बहनों में इकलौता भाई था. जब 1984 में तत्कालीन प्रधानमंत्री इंदिरा गांधी ने ऑपरेशन ब्लूस्टार चलाया, तब तूफान सिंह 13 साल का था. इस घटना का तूफान पर गहरा असर हुआ. उसने इसे सिखों पर अत्याचार माना और वह बदले की भावना से उबलने लगा. जवानी में जुगराज ने कुछ दिन नाभा जेल में गुजारे. यहां उसकी मुलाकात चरमपंथी मनबीर सिंह चाहेरू और बलदेव सिंह गुमान से हुई. सिंह ने जुगराज से कहा, वह बहुत छोटा है और अपने पिता का इकलौता बेटा है, इसलिए इस लड़ाई में आने की बजाय घर पर ही रहे. लेकिन तूफान ने हिंसा का रास्ता अपनाए रखा.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *