प्रिंसिपल ने की छात्र की पिटाई, आंख में गंभीर चोट

Society

यहां एक स्कूल में सुबह प्रार्थना के दौरान बैग टांगकर खड़े होने पर 12 वीं के एक छात्र की वाइस प्रिंसिपल द्वारा पिटाई कर दी. छात्र के घर वालों का आरोप है कि वाइस प्रिंसिपल ने छात्र को डंडे से पीटा, जिससे उसकी एक आंख में गंभीर चोट आने से उसकी रोशनी चली गई. पुलिस ने इस मामले में वाइस प्रिंसिपल के खिलाफ मामला दर्ज कर लिया है.

मिली जानकारी के अनुसार इलाहाबाद की सेरोन ला रिवरीया बिशप जॉनसन स्कूल में टीचर हैं. उनका बेटा सेरवेन टेरेंस सेंट जोसेफ स्कूल में 12वीं कक्षा का छात्र है. मां सेरोन ने बताया कि 9 मई की सुबह 7 बजे उनका बेटा स्कूल की प्रार्थना में बैग कंधे पर टांगे खड़ा था. वाइस प्रिंसिपल फादर लेसली कोटिनो ने जब उसे देखा तो उसे डांटा कि अभी तुम्हारा बैग कंधे पर ही है. बेटा बैग उतारता, उससे पहले ही उन्होंने उस पर डंडे से वार कर दिया. डंडा उसकी दाहिनी आंख में लगा और उससे खून निकलने लगा. इसके बावजूद वे नहीं रुके. उन्होंने उसके साथी श्रेयांश जायसवाल को भी पीटा.

मां सेरोन ने बताया कि आंख में चोट लगने से हालत बिगड़ी तो आनन-फानन में बेटे को नाजरेथ हॉस्पिटल ले जाया गया. वहां से उन्होंने मुझे फोन पर चोट लगने की खबर दी, लेकिन सजा वाली बात किसी ने नहीं बताई. हॉस्पिटल में मुझे बेटे से मिलने नहीं दिया गया. मैंने हल्ला किया तो फादर बोले बेटे को चोट ज्यादा है, उसे लखनऊ भेजा जा रहा है. डॉ. टीएन व्यास ने प्राथमिक इलाज के बाद सेरवेन को लखनऊ के एक आई हॉस्पिटल में रेफर कर दिया.जहां पता चला कि उसकी आंख की रोशनी चली गई है.

इस मामले में सिविल लाइंस थाने के इंस्पेक्टर मनोज तिवारी ने बताया कि घर वालों की रिपोर्ट पर फादर लेसली कोटिनो के खिलाफ एफआईआर दर्ज की गई है. मामले की जांच की जा रही है. जब फादर लेसली से बातचीत करने की कोशिश की गई तो उन्होंने धोखे से चोट लग गई है कहकर फोन कट कर दिया और मोबाइल स्विच ऑफ कर लिया.