देश के ये गाँव नहीं घुमे आपने तो क्या देखा ?

OMG!

भारत जहाँ बहुत से गाँव बस्ते हैं। यहाँ की 70% आबादी आज भी गांवों में ही बसती है। भारत जिसे हम कृषि प्रधान देश कहते हैं, उसकी इकोनॉमी आज भी कृषि पर आधारित है जिसमें गावों का बहुत बड़ा योगदान है। गाँव का नाम आते ही हमारे मन में एक ही छवि आती है ,हरे भरे खेत,सरसों के पिले लहलहाते खेत, मिट्टी से बने वो घर और शुद्ध हवा। लेकिन हमारे देश में कुछ ऐसे गांव बचे रह गए हैं जिन्होंने इस दौर में भी अपनी पहचान को बचाए रखा है। तो क्यों न अगली आउटिंग पर भारत के इन बेहद खूबसूरत गावों की ओर रुख किया जाए।

1. मलाना, हिमाचल प्रदेश – खासियत- मलाना को पूरी दुनिया के सबसे पुरानी डेमोक्रेसी में शुमार किया जाता है।

2. पनामिक, लद्दाख – भारत का एक मात्र ऐसा गांव जहां गरम पानी का स्त्रोत है।

3. किब्बर, स्पिति वैली, हिमाचल प्रदेश – दुनिया के सबसे बड़े और ऊंचे मठ के लिए भी इस गांव को जाना जाता है। ये गांव लगभग 14,000 फीट की ऊंचाई पर स्थित है।

4. पूवार, केरल – त्रिवेन्द्रम के दक्षिणी हिस्से में बसा हुआ यह गांव समंदर का ही हिस्सा लगता है।

5. कालप, उत्तराखंड – गढ़वाली पहाड़ियों की गोद में बसा हुआ, यह गांव तो ऐसा लगता है जैसे ख़ुद ईश्वर ने बड़ी फुर्सत से इसे बनाया-बसाया हो।

6. मुट्टम, तमिलनाडु – समंदर में आने-जाने वाले जहाजों को रास्ता दिखाने वाले इस लाइटहाउस वाले गांव का सूर्यास्त तो जैसे किसी दूसरी ही दुनिया का नज़ारा प्रस्तुत करता है।

7. मावल्यान्नांग, पूर्वी खासी हिल्स, मेघालय – भारत ही नहीं बल्कि पूरे एशिया में सबसे साफ़-सुथरे गांव के तौर पर जाना जाता है, जहां 100% लोग शिक्षित हैं।