आस्था का मजाक उड़ाने पर योगेश्वर दत्त ने दिया करार जवाब

Sports

पहलवान ओलंपिक मेडल विजेता योगेश्वर दत्त को तब बहुत बुरा लगा जब एक शख्स ने हिंदुओं की आस्था का मजाक उडाते हुए विवादित ट्वीट किया। ट्वीटर यूजर अगनिवो नियोगी ने ट्वीट करते हुए लिखा कि गाय हमारी माता है, और भैंस हमारा बाप हैं। यूजर के इस ट्वीट पर योगेश्वर दत्त ने जवाब देते हुए लिखा, पहली बात तो तुम भैंस के पिता नहीं बना सकते वो एक स्त्रीलिंग है, दूसरी बात आस्था की हैं जो तुम जैसे मंदबुद्धि नहीं समझ सकते। असल में इस विवाद की शुरूआत तब हुई जब योगेश्वर दत्त ने एक ट्वीट करते हुआ लिखा था – ‘जिस देश में गाय को मां का दर्जा दिया जाता है वहीं उसका सरेआम कत्ल किया जाता है, अभी भी समय है सुधर जाओ नहीं तो इसके भयंकर परिणाम भुगतने पडेंगे।

अपने आप को बंगाल के मुख्यमंत्री ममता बनर्जी और प्रशंसक बताने वाले इस शख्स ने इसी ट्वीट को री-ट्वीट करते हुए ये विवादित बात कहीं। इसके बाद से पासा योगेश्वर दत्त के ऊपर ही पलट गया। ट्वीटर पर कई यूजर्स ने उलटा उनको ही घेर लिया था। योगेश्वर दत्त के इस ट्वीट पर कई यूजर्स ने तीखी प्रतिक्रिया दी। ट्विटर यूजर ताहिर रिहान लिखते है, ‘तुम गाय-भैंस ही करते रहोंगे या कुछ खेल में पदक भी जीतोगे’। सत्य साधक नरेंद्र एक तस्वीर शेयर करते हुए लिखते हैं, चलो कितनी आस्था है देखते हैं। बैन हटाकर व्यापार को नंबर वन बनाया फिर उनके पुरस्कार भी दे रहे हो और बदले में चंदा ले रहे हो।’

नरेंद्र एक अन्य ट्वीट में लिखते हैं, संगीत सेम और कई समर्थकों के बूचड़खाने चल रहे। बीफ खाने का सर्मथन भी करते हैं। मौकापरस्ती की राजनीति भी करते हो और फिर कहते हैं गाय हमारी माता है।’ वहीं दूसरी और परेश रावल के नाम से बने अकाउंट से यूजर लिखते हैं ‘करारा जवाब दिया है भाई।’ डे 29 लिखते हैं- अगर आस्था की बात है तो गोवा में ना बिक रहे होते।’ एक यूजर ने ट्वीट करते हुए पूछा- ‘ इसका जवाब है कि गोवा में बैन क्यों नहीं लगया जा रहा है।’ सुशील ने ट्वीट किया कि- मूर्खें को उपदेश देना स्वयं मूर्ख बनने के समान है’।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *